Friday, September 25, 2020
Home Health Health Care / स्वास्थ्य एक गिलास गुनगुना पानी बीमारियों को भगाएगा दूर, वजन भी होगा कम

एक गिलास गुनगुना पानी बीमारियों को भगाएगा दूर, वजन भी होगा कम

पानी न सिर्फ जिंदा रहने के लिए जरूरी है, बल्कि इससे सेहत (Health) को कई तरह के फायदे भी पहुंचते हैं. यही वजह है कि रोज कम से कम 8-10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए. वहीं दिन की शुरुआत अगर एक गिलास गुनगुने पानी से की जाए तो इससे बढ़ते वजन (Weight) से राहत मिलती हैं और पाचन संबंधी (Digestive) कई समस्‍याएं भी दूर हो जाती हैं. ऐसे में गुनगुना पानी (Lukewarm Water) सेहत के लिहाज से बेहद फायदेमंद होता है.

बदलते मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम का खतरा बढ़ जाता है. ऐसे में इनसे बचाव के लिए रोज सुबह खाली पेट 1 गिलास गर्म लिया जा सकता है. इसमें अगर नींबू भी डाल कर पीएं, तो इससे शरीर का इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है.

हर सुबह दिन की शुरुआत गुनगुने पानी से की जाए तो गैस, एसिडिटी की समस्‍या से राहत मिलती है. इसके अलावा पेट संबंधी कई समस्‍याएं दूर होती हैं और कब्‍ज से भी राहत मिलती है.

गुनगुना पानी पीने से गले में मौजूद बैक्‍टीरिया का खात्‍मा होता है, वहीं थ्रोट इंफेक्‍शन से भी निजात मिलती है.बढ़ता वजन आज की आम समस्‍या है. ऐसे में हर सुबह गुनगुना पानी पिया जाए तो शरीर में मौजूद वसा खत्‍म होने लगती है और वजन कम होने लगता है.

गर्म पानी रक्त संचार बेहतर बनाता है. साथ ही शरीर को सेहतमंद बनाए रखने में भी मदद करता है.

गुनगुना पानी स्किन के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है. इससे पेट साफ रहता है, इसलिए पिंपल्‍स आदि की समस्‍या भी नहीं होती.

गुनगुना पानी थकावट को दूर करता है और रक्‍त प्रवाह को भी संतुलित बनाता है.

सर्दियों के मौसम में गुनगुने पानी को पीने से छाती में जकड़न और जुकाम जैसी समस्‍याएं नहीं होतीं. वहीं गले की खराश आदि में भी आराम मिलता है.

गुनगुना पानी पीने से पेट की मांसपेशियों में होने वाली ऐंठन से आराम मिलता है और पीरियड्स में भी दर्द की समस्‍या दूर होती है.

जो लोग जोड़ों के दर्द की समस्‍या से जूझ रहे हैं, उनके लिए गुनगुना पानी पीना बहुत राहत देता है. यह जोड़ों के बीच के घर्षण को कम करने में मददगार होता है.

ये भी पढ़ें – छोटी-छोटी बातों पर आता है गुस्‍सा? तो जरूर रखें इन बातों का ध्‍यान

तले-भुने खाने के कुछ समय बाद गुनगुना पानी पिया जाए तो यह भोजन को पचाने में मदद करता है और एसिडिटी जैसी समस्‍याएं दूर हो जाती हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: