Wednesday, October 21, 2020
Home समाचार ऑस्ट्रलिया: युवती के सिर में होता था तीखा दर्द, टेस्ट में पता...

ऑस्ट्रलिया: युवती के सिर में होता था तीखा दर्द, टेस्ट में पता चला कीड़े ने दिए अंडे

ऑस्ट्रलिया: युवती के सिर में होता था तीखा दर्द, टेस्ट में पता चला कीड़े ने दिए अंडे

ऑस्ट्रलिया की एक युवती के दिमाग में कीड़े ने अंडे दे दिए. (तस्वीर: Pixabay)

ऑस्ट्रलिया की एक युवती (Australian Youth Girl) के दिमाग में कीड़े ने अंडे दे दिए जिससे उसके सिर में लगातार दर्द (Severe Headache) हो रहा था. यह बात एमआरआई के बाद पता चली.

मेलबर्न. एक ऑस्ट्रलियाई युवती (Australian Youth Girl) के दिमाग में कीड़े ने अंडे दे दिए जिससे उसके सिर में लगातार दर्द (Severe Headache) हो रहा था. 25 साल की इस युवती एक सप्ताह से अधिक समय से सिरदर्द से पीड़ित थी. शुरू में डॉक्टरों को उसके मस्तिष्क का एमआरआई देखने पर लगा था कि वह ब्रेन ट्यूमर (Brain Tumer) है जो उसके दर्द का कारण हो सकता है लेकिन घाव की गंभीर जांच के बाद उन्होंने पाया कि यह ट्यूमर न होकर वास्तव में टेपवर्म (tapeworm) लार्वा से भरा गांठ था, जो उस युवती के मस्तिष्क में दर्द पैदा कर रहा था. इस युवती को महीने में दो- या तीन बार दर्द होता था जो माइग्रेन की दवा लेने से ठीक हो जाता था. इस बार उसे जो दर्द हुआ तो एक सप्ताह से अधिक समय तक रहा और इस बार गंभीर लक्षण दिखे जिसमें उसकी नजर का धुंधला होना भी शामिल था.

इस बीमारी को न्यूरोकाइस्टिसरोसिस कहा जाता है

महिला की स्थिति को न्यूरोकाइस्टिसरोसिस के रूप में जाना जाता है जिसमें मस्तिष्क में लार्वा अल्सर विकसित होने पर न्यूरोलॉजिकल लक्षण पैदा हो जाते हैं. यूएस सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के अनुसार जिन लोगों की आँतों में टेपवर्म होता है उन लोगों के मल में पाए जाने वाले इस परजीवी के अंडे किसी भी रूप में अगर किसी व्यक्ति के मुंह में चले जाएँ तो उसे भी यह संक्रमण हो सकता है. सीडीसी के अनुसार न्यूरोकाइस्टिसरकोसिस घातक है और दुनिया भर में वयस्कों को होने वाली मिर्गी का एक प्रमुख कारण है.

क्या हैं टेपवर्मटेपवर्म आमतौर पर मानव आंतों में रहते हैं. यह एक तरह का संक्रमण है जिसे टेनिआसिस के नाम से जाना जाता है और बिना दवा के ये कीड़े अपने आप शरीर से निकल जाते हैं जब लोग कम पके सूअर के मांस यानि पोर्क का सेवन करते हैं, तो यह परजीवी उनके शरीर में फैल जाता है. टेपवर्म के अंडे से दूषित भोजन, पानी और मिट्टी के संपर्क में आने के बाद सूअर अक्सर टैपवार्म होस्ट बन जाते हैं.

ये भी पढ़ें: लंदन में चीन बनाएगा भव्य दूतावास, मुस्लिम आबादी ने शुरू किया जोरशोर से विरोध 

कोरोनाकाल में खिड़की पर आंखें लड़ीं, चर्चा में हैं इटली के ये रोमियो-जूलियट 

टेक्सास के एक व्यक्ति को भी इसी तरह का अनुभव हुआ था. वह एक दशक से अधिक समय तक सिर दर्द से पीड़ित रहा था जो टेपवर्म लार्वा के कारण हुआ था. टेपवर्म उसके मस्तिष्क के चौथे वेंट्रिकल में इकट्ठे हो गए थे.

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: