सीेएए के खिलाफ प्रदर्शन की प्रतीकात्मक तस्वीर (Reuters)

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (K Chandrashekhar Rao) ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वह सीएए (CAA) को वापस ले और लोगों के साथ धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं हो.

हैदराबाद. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं. वहीं, तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विधानसभा में एक प्रस्ताव पास करने का निर्णय लिया है.तेलंगाना सरकार ने मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद बाद यह निर्णय लिया. राव ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वह इस कानून को वापस ले और लोगों के साथ धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं हो.Telangana Chief Minister’s Office (CMO): State Cabinet decided to pass resolution to this effect in the State Assembly the way states of Kerala, Punjab, Rajasthan, and West Bengal did. https://t.co/AomZEa3tRH— ANI (@ANI) February 16, 2020पंजाब और केरल सहित इन राज्यों ने CAA के खिलाफ पारित किया है प्रस्तावहाल ही में पुडुचेरी विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पेश किए गए प्रस्ताव को पास किया गया. इसमें केंद्र सरकार से इन कानूनों को वापस लेने की मांग की गई. पुडुचेरी से पहले पश्चिम बंगाल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब और केरल सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पास कर चुके हैं. वहीं पुडुचेरी इस कानून के खिलाफ प्रस्‍ताव पास करने वाला पहला केंद्र शासित राज्य बन गया.हम अनुच्छेद 370, सीएए पर फैसले के साथ खड़े हैं : मोदी वहीं, सीएए के खिलाफ लगातार प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (16 फरवरी) को कहा कि तमाम दबाव के बावजूद उनकी सरकार फैसले पर अडिग है. वाराणसी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘चाहे अनुच्छेद 370 पर फैसला हो या फिर नागरिकता संशोधन कानून पर फैसला हो, यह देश हित में जरूरी था. दबाव के बावजूद हम अपने फैसले के साथ खड़े हैं और इसके साथ बने रहेंगे.’’
ये भी पढ़ें-सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पास करने वाला पुडुचेरी पहला केंद्र शासित राज्य बनाजामिया हिंसा: नया VIDEO आया सामने, छात्रों के हाथ में दिखे पत्थर

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: February 17, 2020, 1:23 AM IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here