पिछले दिनों नाहिद हसन को इसी मामले में गिरफ्तार किया गया था.

जस्टिस अजीत सिंह की एकल पीठ ने जमानत अर्जी मंजूर करते हुए कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन (SP MLA Nahid Hasan) को जमानत पर रिहा करने का भी आदेश दिया है.

प्रयागराज. यूपी के शामली (Shamli) जिले के कैराना विधानसभा सीट से सपा विधायक नाहिद हसन (SP MLA Nahid Hasan) को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) से बड़ी राहत मिली है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सपा विधायक नाहिद हसन के खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी, चोरी, हमला करने, जान से मारने की धमकी देने के मुकदमे में उनकी जमानत मंजूर कर ली है. जस्टिस अजीत सिंह की एकल पीठ ने जमानत अर्जी मंजूर करते हुए कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन को जमानत पर रिहा करने का भी आदेश दिया है.गौरतलब है कि कैराना कोतवाली में दर्ज धोखाधड़ी के मामले में विधायक की जमानत अर्जी खारिज होने पर कोर्ट ने 24 जनवरी 2020 को उन्हें जेल भेज दिया था. नाहिद हसन के खिलाफ मोहम्मद अली ने 2018 में मुकदमा दर्ज कराया था. सपा विधायक पर अपने करीबी के नाम एक जमीन का सेल डीड कराने का आरोप है. विधायक पर आरोप है कि वादी मोहम्मद अली ने महमूद अली के साथ एक जमीन का सौदा किया था. लेकिन महमूद अली ने वह जमीन उसे ना बेच कर विधायक नाहिद हसन के आदमी हाकम अली को बेच दी.दलील: राजनीतिक द्वेष के कारण दो साल बाद दर्ज कराया मुकदमा वादी का कहना था कि, उसने जमीन के एवज में कई लोगों से रकम ली थी और कई लोगों को पैसे दिए थे. जमानत अर्जी पर सुनवाई के दौरान सपा विधायक की ओर से कोर्ट में दलील दी गई कि उनके खिलाफ राजनीतिक विद्वेष की भावना से 2 साल के बाद कैराना कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया. जबकि विधायक की उस मामले में कोई संलिप्तता नहीं थी.ठोस साक्ष्य नहीं और केस में देरी बनी जमानत का आधार कोर्ट में याची विधायक की ओर से दलील दी गई कि इस मामले में उन्होंने किसी प्रकार का कोई लाभ नहीं लिया है और न ही वादी को गैरकानूनी तरीके से कोई नुकसान पहुंचा है. कोर्ट ने विधायक के खिलाफ दर्ज मुकदमे में ठोस साक्ष्य न मिलने और 2 साल की देरी से मुकदमा दर्ज कराने के आधार पर लेकर सपा विधायक को जमानत दे दी है.ये भी पढ़ें:शामली के कैराना से समाजवादी पार्टी MLA नाहिद हसन गिरफ्तार, 14 दिन की जेलआजमगढ़: जिस इलाके से गुजरा था प्रियंका का काफिला, वहीं जमकर लूटपाट

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: February 12, 2020, 9:41 PM IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here