इस साल मंदी आने का अनुमान जताया

ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज (Moody’s) ने कोरोना वायरस संकट (Coronavirus) के चलते बुधवार को जी-20 (G20) समूह देशों में इस साल मंदी (Recession) आने का अनुमान जताया है.

नई दिल्ली. ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज (Moody’s) ने कोरोना वायरस संकट (Coronavirus) के चलते बुधवार को जी-20 (G20) समूह देशों में इस साल मंदी (Recession) आने का अनुमान जताया है. मूडीज ने अनुमान जताया है कि जी-20 समूह देशों का सब मिलाकर सकल घरेलू उत्पाद 2020 में 0.5 प्रतिशत घटेगी. इसमें अमेरिकी अर्थव्यवस्था में दो प्रतिशत और यूरोजोन (यूरो को मुद्रा के तौर पर अपनाने वाले देश) की अर्थव्यवस्था में 2.2 प्रतिशत का सिकुड़न होगा. हालांकि, कोरोना वायरस का प्रमुख केंद्र होने के बावजूद उसकी अर्थव्यवस्था का 3.3 प्रतिशत विस्तार होने की संभावना है.ये भी पढ़ें: नहीं होगी रसोई गैस सिलेंडर की कोई किल्लत, IOC ने उठाया बड़ा कदमG-20 में कौन-कौन से देश शामिल हैं? जी-20 समूह में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका शामिल हैं. ये सभी सदस्य मिल कर दुनिया की जीडीपी का 85 फीसदी हिस्सा बनाते हैं. इसके अलावा इन देशों का वैश्विक व्यापार में हिस्सा भी अस्सी फीसदी है और दुनिया की दो तिहाई आबादी यहीं रहती है.कल दुनिया भर में कोरोना संक्रमण के 48,486 नए केस आए  तमाम लॉकडाउन, कर्फ्यू और सोशल डिस्टेंसिंग के उपायों पर जोर देने के बावजूद दुनिया भर के 196 देशों में कोरोना (Coronavirus) के नए केस हर दिन सामने आ रहे हैं. बुधवार को भी दुनिया भर में कोरोना संक्रमण के 48486 नए केस सामने आए जिससे कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4,68,000 से ज्यादा हो गयी है.ये भी पढ़ें: कैबिनेट का बड़ा फैसला! 80 करोड़ लोगों को मिलेगा 2रु किलो गेहूं, 3 रु किलो चावल3 अरब लोग घरों में बंद  विश्व में फैली कोरोना वायरस महामारी से लड़ने में सरकारों की जद्दोजहद के बीच करीब 70 देशों के तीन अरब लोगों को घरों के अंदर ही रहने को कहा गया है. अर्जेंटीना, ब्रिटेन, फ्रांस, भारत और इटली तथा अमेरिका के कई राज्यों ने अनिवार्य ‘लॉकडाउन’ लागू किया हुआ है.

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: March 26, 2020, 8:45 AM IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here