Thursday, October 29, 2020
Home Money Making Tips घर की छत पर करें बिना मिट्टी की खेती, हो सकती है...

घर की छत पर करें बिना मिट्टी की खेती, हो सकती है मोटी कमाई

आजकल टेरेस फार्मिंग उभरता ट्रेंड है, जिसे कैश करने का बढ़िया मौका आपको मिल रहा है. आइए जानते हैं इसके बारे में सबकुछ…

नई दिल्ली. घर बैठे बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो जानते हैं ऐसा आइडिया जिसमें लागत भी कम है और कमाई अच्छी-खासी हो सकती है. इसके लिए बस जरूरी है घर की छत और खुला आंगन. आजकल टेरेस फार्मिंग उभरता ट्रेंड है, जिसे कैश करने का बढ़िया मौका आपको मिल रहा है. इस तकनीक में मिट्टी का इस्तेमाल बिल्कुल नहीं होता है और पौधों के लिए जरूरी पोषक तत्व पानी के सहारे सीधे पौधों की जड़ों तक पहुंचाया जाता है. इसे हाइड्रोपोनिक्स (Hydroponics) कहा जाता है.

मल्टी लेयर फ्रेम में पौधे लगाएं
हाइड्रोपोनिक्स तकनीक में पौधे एक मल्टी लेयर फ्रेम के सहारे पाइप में उगाए जाते हैं. उनकी जड़ें पाइप के अंदर पोषक तत्वों से भरे पानी में छोड़ दी जाती है. हाइड्रोपोनिक्स के सेटअप के लिए कई कंपनियां काम करती हैं जो शौकिया गार्डन से लेकर कमर्शियल फार्म सेट करने में आपकी मदद करती है. इसमें लेटसेक्ट्रा एग्रीटेक बिटमाइंस इनोवेशंस, फ्यूचर फार्म्स, हमारी कृषि जैसे स्टार्टअप्स काम कर रहे हैं. इन कंपनियों से हाइड्रॉपनिक्स सेटअपर को खरीदा जा सकता है.

ये भी पढ़ें: Coronavirus को लेकर रेलवे ने उठाया बड़ा कदम, AC कोच से हटाए पर्दे, कंबल देना भी बंदएक लाख रुपये में 400 पौधे लगाने का सिस्टम

दो मीटर ऊंचे एक टावर में करीब 35 से 40 पौधे लगाए जा सकते हैं. लगभग 400 पौधे वाले 10 टावर आप 1 लाख रुपये तक में खरीद सकते हैं. अगर सिस्टम को सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो आगे सिर्फ बीज और पोषक तत्व का ही खर्च आएगा.

मौसम की मार से बचने के लिए नेट सेड या पॉली हाउस की जरूरत होगी. इस तकनीक के जरिये कंट्रोल्ड एनवायरमेंट में खेती होती है. इसलिए अक्सर किसान ऐसी सब्जियों का उत्पादन करते हैं जिसकी मार्केट में कीमत ज्यादा होती है.

कितनी होगी कमाई
महंगी फल और सब्जियां उगाकर आप सालाना 2 लाख रुपये तक की कमाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- LIC ने लॉन्च की एक और खास स्कीम: सिर्फ 11 रुपये रोजाना देकर पाएं ये बड़े फायदे

क्या आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कोरोना वायरस का इलाज हो सकता है?

! function(f, b, e, v, n, t, s) { if (f.fbq) return; n = f.fbq = function() { n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments) }; if (!f._fbq) f._fbq = n; n.push = n; n.loaded = !0; n.version = ‘2.0’; n.queue = []; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e)[0]; s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’); fbq(‘init’, ‘482038382136514’); fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: