Tuesday, September 29, 2020
Home Viral दुनिया में केवल 100 लोगों को है ये बीमारी-रोने, नहाने पर लग...

दुनिया में केवल 100 लोगों को है ये बीमारी-रोने, नहाने पर लग जाती है पाबंदी | lifestyle – News in Hindi


Aquagenic urticaria

टेसा को पानी से एलर्जी की (Rarest of Rare Diesease) ऐसी बीमारी है जो दुनिया में बमुश्किल 100 लोगों को होगी. इस दुर्लभ बीमारी का नाम है एक्वाजेनिक यूर्टिकारिया (Aquagenic urticaria).

Last Updated:
November 28, 2019, 4:20 PM IST

कैलिफोर्निया.  अमेरिका के कैलिफोर्निया (California) में रहने वाली एक 21 वर्षीय लड़की दो महीने में एक बार नहाती है. वो भी मजबूरी में. टेसा हेन्सेन-स्मिथ नाम की इस खूबसूरत लड़की के रोने और खेलने पर भी पाबंदी है. ऐसा नहाने के डर या किसी सामाजिक कुप्रथा के चलते खेलने न दिया जाए ऐसा नहीं है. टेसा को पानी से एलर्जी की (Rarest of Rare Diesease) ऐसी बीमारी है जो दुनिया में बमुश्किल 100 लोगों को होगी. इस दुर्लभ बीमारी का नाम है एक्वाजेनिक यूर्टिकारिया (Aquagenic urticaria).डेलीमेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक जब टेसा केवल नौ साल की थी तब उसे पहली बार नहाने के बाद शरीर में धब्बे हो गए. इन धब्बों में खुजली की परेशान के बाद टेसा की मां को लगा कि उसे साबुन या शैम्पू से एलर्जी होगी. लेकिन टेमा को थोड़ी देर में माइग्रेस के साथ बुखार आ गया. पेशे से डॉक्टर टेसा की मां को चिंता तब हुई जब यह बार-बार होने लगा. दुनियाभर में यह बीमारी बमुश्किल 50 से 100 लोगों को होगी. जांच करवाने पर पता चला कि टेसा को एक बेहद दर्लभ बीमारी है. इस बीमारी में इंसान को पानी से एलर्जी हो जाती है. यह एलर्जी केवल पानी तक सीमित नहीं रहती. इसमें इंसान को अपने ही पसीने, आंसू और थूक तक से परेशानी हो सकती है.दुनियाभर में यह बीमारी बमुश्किल 50 से 100 लोगों को होगी. इस बीमारी के महिलाओं को होने की आशंका अधिक रहती है खासकर जब वो किशोरावस्था में प्रवेश करतीं हैं. इस एलर्जी एलर्जी के दाग शरीर पर उभरने के 30 से 60 मिनट में गायब हो जाते हैं लेकिन इसके बाद माइग्रेन और तेज बुखार पीड़ित को अपने चपेट में ले लेता है. इस बीमारी से पीड़ित टेसा दिन में नौ गोलियां खाती हैं.विशेषज्ञों की मानें तो यह बीमारी किसी को भी हो सकती है. इसका अभी तक कोई खास लक्षण या पारिवारिक पृष्ठभूमि से कोई संबंध स्थापित नहीं हुआ है. दुर्लभ होने के कारण इसके बारे में ज्यादा शोध भी उपलब्ध नहीं है.इस बीमारी से पीड़ित टेसा दिन में नौ गोलियां खाती हैं. उनका कहना है कि पहले तो वो दिन में 12 टैबलेट खाया करती थीं. इस दवाई से वो एलर्जी से होने वाले नुकसान को कम कर सकतीं हैं. इन एंटीहिस्टामाइन टेबलेट्स के अलावा इस बीमारी के इलाज में अल्ट्रावायलेट किरणों, स्टेरॉइड्स और क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है.टेसा अपने नहाने के पानी में सोडियम बायकार्बोनेट इस्तेमाल करती हैं जिससे उनकी एलर्जी का असर कम हो सके.ये भी पढ़ें:भूखे भजन न होय गोपाला’, अमेरिकी शोध ने साबित कर डालासोशल मीडिया, टीवी और कंप्युटर किशोरों में बढ़ा रहे हैं तनाव

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: November 28, 2019, 1:42 PM IST



Source link

Leave a Reply

Most Popular

सुशांत सिंह राजपूत मामला: CBI का कहना है कि ‘कोई भी पहलू खारिज नहीं’; जांच जारी है: बॉलीवुड समाचार – बॉलीवुड हंगामा

कुछ दिन पहले, सुशांत सिंह राजपूत के परिवार का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील ने सीबीआई की जाँच में देरी पर रोष...

Wipro Service Desk Hiring for 2020 Graduates (Non- Engineering)

Apply for the job now! Job title: Wipro Service Desk Hiring for 2020 Graduates (Non- Engineering) Company: Wipro Apply for the job now! Job description: Basic Computer knowledge...

Happy Birthday Mouni Roy: गजब का फैशन सेंस है मौनी रॉय का

CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved....
%d bloggers like this: