ध्यान दें! कल से बदलने जा रहा आपके SIM से जुड़ा यह नियम, ट्राई ने दी जानकरी

16 दिसंबर से एमएनपी से संबंधित नियम बदल जाएंगे.

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (MNP) को लेकर TRAI ने नई प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी है. इसके बाद MNP की प्रक्रिया कम दिनों में ही पूरी कर ली जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    December 15, 2019, 6:26 AM IST

नई दिल्ली. टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने हाल ही में संशोधित मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी ​(MNP) प्रक्रिया के संबंध में सार्वजनिक नोटिस जारी किया था. TRAI के मुताबिक, 16 दिसंबर यानी सोमवार से मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी की प्रक्रिया आसान हो जाएगी. इसके बाद कोई भी यूजर अपने ऑपरेटर को आसानी से बदल सकता है. इसके लिए उन्हें मोबाइल नंबर नहीं बदलना होगा.

कम हो जाएगी पोर्टिंग प्रक्रिया की अवधि
ट्राई ने इस नई प्रक्रिया में यूनिक पोर्टिंग कोड (UPC) के क्रिएशन का शर्त लेकर आया है. नए नियम के तहत अब सर्विस एरिया के अंदर अगर कोई पोर्ट कराने के आग्रह करता है तो उसे 3 वर्किंग डे में पूरा करना होगा. वहीं, एक सर्किल से दूसरे सर्किल में पोर्ट के आग्रह को 5 वर्किंग डे में पूरा करना होगा.

ये भी पढ़ें: सस्ता हुआ शानदार फीचर्स वाला Samsung Galaxy A70s, जानें कितने घटे दाम

कॉरपोरेट मोबाइल कनेक्शन की अवधि में कोई बदलाव नहीं
ट्राई ने स्पष्ट किया है कि कॉरपोरेट मोबाइल कनेक्शनों की पोर्टिंग की समयसीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है. नई प्रक्रिया 16 दिसंबर से लागू कर दी जाएगी. मोबाइल उपभोक्ता यूपीसी को क्रिएट कर सकेंगे और मोबाइल नंबर पोर्टिंग प्रक्रिया का लाभ उठा सकेंगे.TRAI के नए नियम में यह भी शामिल
नई प्रक्रिया के नियम तय करते हुए ट्राई (TRAI) ने कहा कि अलग अलग शर्तों के पॉज़िटिव अनुमोदन से ही यूपीसी का क्रिएट किया जा सकेगा. उदाहरण के लिए पोस्ट पेड मोबाइल कनेक्शनों के मामले में ग्राहक को अपने बकाया के बारे में संबंधित आपरेटर से प्रमाणन लेना होगा.

ये भी पढ़ें: Flipkart से मोबाइल मंगाना पड़ा महंगा, 94 रुपये में मिला नकली iPhone 11 Pro

इसके अलावा मौजूदा आपरेटर के नेटवर्क पर उसे कम से कम 90 दिन तक एक्टिव भी रहना होगा. लाइसेंस वाले सेवा क्षेत्रों में यूपीसी चार दिन के लिए वैलिड होगा. वहीं जम्मू-कश्मीर, असम और पूर्वोत्तर सर्किलों में यह 30 दिन तक वैलिड रहेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: December 15, 2019, 6:26 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here