पुरानी गाड़ी के बदले नई गाड़ी खरीदने पर छूट देने से जुड़ी स्क्रैपेज पॉलिसी पर PMO लेगा फैसला

स्क्रैपेज पॉलिसी के बजट से पहले आने की संभावना कम

CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस पॉलिसी के ड्राफ्ट को एक बार फिर से प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने वापस मंगा लिया है. स्क्रैपेज पॉलिसी की फिर से ड्राफ्टिंग होगी. स्क्रैपेज पॉलिसी एक बार फिर PMO के पास पेश होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    January 16, 2020, 5:06 PM IST

नई दिल्ली. लंबे समय से लटकी स्क्रैपेज पॉलिसी (Scrappage Policy) के आने में थोड़ा वक्त और लग सकता है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस पॉलिसी के ड्राफ्ट को एक बार फिर से प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने वापस मंगा लिया है. स्क्रैपेज पॉलिसी की फिर से ड्राफ्टिंग होगी. स्क्रैपेज पॉलिसी एक बार फिर PMO के पास पेश होगी. स्क्रैपेज पॉलिसी का ड्राफ्ट तैयार है. PMO की मंजूरी के बाद स्क्रैपेज पॉलिसी आएगी. सूत्रों के मुताबिक सरकार पर वित्तीय दबाव पर कुछ सवाल है.

पॉलिसी के बजट से पहले आने की संभावना कम
बता दें कि PMO पहले भी पॉलिसी का ड्राफ्ट वापस मंगा चुका है. पॉलिसी के बजट से पहले आने की संभावना कम है. पुरानी गाड़ी के बदले नई गाड़ी खरीदने पर छूट मिलेगी. नई खरीदने पर रजिस्ट्रेशन फीस नहीं देनी होगी. राज्य 15 साल या ज्यादा पुरानी गाड़ियों पर ज्यादा रोड टैक्स लगा सकेंगे.

ये भी पढ़ें: UPI इस्तेमाल करने वालों के लिए बड़ी खबर! इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो खाली हो जाएगा खातानई और पुरानी गाड़ियों पर अलग-अलग रोड टैक्स
इसके राज्यों को नई और पुरानी गाड़ियों के लिए अलग-अलग रोड टैक्स लगाए जाने को कहा जाएगा. स्कैप्ड गाड़ियों पर रोड टैक्स में छूट दी सकती है. 15 साल से पुरानी गाड़ियों को हर 6 महीने में फिटनेस सर्टिफिकेट लेने के लिए कहा जाएगा.

15 साल पुरानी गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन के रिनुअल्स में 20 गुना से ज्यादा की बढ़ोतरी की गई है. अभी छोटी प्राइवेट कार का रजिस्ट्रेशन रिनुअल्स पर 600 रुपये लगते हैं, लेकिन स्क्रैपेज पॉलिसी में यह 15,000 रुपये प्रस्तावित है. 7.5 टन से कम छोटी कमर्शियल गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन रिनुअल्स अभी 1,000 रुपये है, जो प्रस्तावित है 20,000 रुपये. मिडियम और हैवी कमर्शियल गाड़ियों के रिनुअल के लिए 1,500 रुपये देने पड़े हैं, प्रस्ताव है 40,000 रुपये.10 साल पुरानी गाड़ी बेचने पर 50 हजार की छूट
प्रस्ताव के मुताबिक 10 साल पुरानी गाड़ी पर 50,000 रुपये तक छूट मिल सकती है. हालांकि नकद छूट के प्रस्ताव में फेरबदल हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक, 10 साल पुरानी कॉमर्शियल गाड़ियां बेचने पर 50 हजार रुपये तक की छूट मिलेगी. 10 साल पुरानी पैसेंजर कार बेचने पर 20 हजार रुपये तक की छूट देने का प्रस्ताव है. वहीं, 7 साल पुराने 2-व्हीलर्स और 3-व्हीलर्स बेचने पर 5000 रुपये तक की छूट मिल सकती है. लेकिन ये छूट नई गाड़ियां खरीदने पर ही मिलेगी.

(रोहन सिंह, संवाददाता- CNBC आवाज़)

यह भी पढ़ें:
अब चुटकियों में बदलें आधार कार्ड में अपने घर का पता! UIDAI ने वीडियो जारी कर बताया सबसे आसान तरीका
FASTag लगाना भूल गए तो भी नहीं देना होगा दोगुना टैक्स, सरकार ने दी बड़ी राहत

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: January 16, 2020, 4:57 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here