फांसी का समय करीब देख डिप्रेशन में गए 'निर्भया' के दोषी, कम किया खाना-पीना

निर्भया बलात्कार-हत्याकांड के दोषी अवसाद में आए. (फाइल फोटो)

सूत्रों ने बताया कि चारों दोषियों- अक्षय ठाकुर, मुकेश, पवन गुप्ता और विनय शर्मा के साथ चार-पांच सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है, ताकि हताशा में आकर वो खुद को कोई नुकसान न पहुंचा सकें.

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    December 14, 2019, 9:45 AM IST

नई दिल्ली. तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में कैद निर्भया गैंगरेप और हत्या (Nirbhaya Case) के चारों दोषी अवसाद (डिप्रेशन) में हैं. जेल के सूत्रों के अनुसार इस वजह से उन्होंने खाना-पीना कम कर दिया है. सूत्रों ने बताया कि चारों दोषियों- अक्षय ठाकुर, मुकेश, पवन गुप्ता और विनय शर्मा के साथ चार-पांच सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है, ताकि हताशा में आकर वो खुद को कोई नुकसान न पहुंचा सकें. तिहाड़ जेल के महानिदेशक (सुपरिटेंडेंट) संदीप गोयल समेत वरिष्ठ अधिकारियों ने शुक्रवार को जेल का दौरा कर दोषियों को फांसी पर लटकाने की तैयारियों का जायजा लिया और संतुष्टि जाहिर की. इस चर्चित मामले की कोई जानकारी लीक न हो, इसके लिये तिहाड़ जेल के अधिकारियों के फोन निगरानी (सर्विलांस) पर लगा दिये गए हैं.

शुक्रवार को ही चारों दोषियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया. मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि इस केस से जुड़ा एक मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है. इसलिए जब तक वहां मामले का निपटारा नहीं हो जाता तब तक लोअर कोर्ट सुनवाई नहीं करेगा. पटियाला हाउस कोर्ट ने सुनवाई 18 दिसंबर तक टाल दी है.

दोषियों को फांसी दी जाए

शुक्रवार को निर्भया की मां आशा देवी ने शीर्ष अदालत का रुख कर मौत की सजा पाए चार दोषियों में से एक की पुनर्विचार याचिका का विरोध किया. इस पर 17 दिसंबर को सुनवाई की जानी है. निर्भया की मां ने दोषियों को जल्द से जल्द सजा देने की मांग की है. उन्होंने कहा, ‘दोषियों को सजा दिलाने के लिए मैंने सात साल का लंबा इंतजार किया है. ऐसे में मैं सात दिन और रुक सकती हूं. मैं न्याय के लिए लगातार लड़ती रहूंंगी.’(भाषा से इनपुट)

ये भी पढ़ें- आगरा: कड़ाके की ठंड के बीच फुटपाथ और डिवाइडर पर सोने को मजबूर बेसहारा

CM योगी ने किया ट्वीट, बोले-अचानक ठंड बढ़ गई है आप सभी अपना ख्याल रखें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: December 14, 2019, 9:07 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here