राहुल गांधी बोले- CAA के बाद GST बढ़ जाएगा, केंद्रीय मंत्री ने पूछा- कौन पंडित ट्यूशन देता है?

राहुल गांधी

नागरिकता कानून (CAA) पर हो रहे घमासान पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जीके किशन रेड्डी ने कहा, ‘तीन मुस्लिम देशों के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है. अगर वे भारत नहीं आएंगे तो वे कहां जाएंगे… इटली?’ उन्होंने कहा, ‘इटली हिंदुओं और सिखों को स्वीकार नहीं करेगा, क्योंकि वे गरीब हैं.’

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    January 2, 2020, 10:22 AM IST

नई दिल्ली. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जीके किशन रेड्डी ने नागरिकता कानून (CAA) और गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) पर दिए बयान को लेकर राहुल गांधी पर निशाना साधा है. वाराणसी में किशन रेड्डी ने दावा किया कि राहुल गांधी को नहीं मालूम कि एनआरसी, सीएए और जीएसटी क्या है? वह कहते हैं कि नागरिकता संशोधन कानून आएगा तो टैक्स बढ़ जाएगा. उन्हें कौन पंडित ट्यूशन दे रहा है, पता नहीं. मेरे विचार से राहुल गांधी को अच्छे टीचर की जरूरत है.

नागरिकता कानून पर हो रहे घमासान पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा, ‘तीन मुस्लिम देशों के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है. अगर वे भारत नहीं आएंगे तो वे कहां जाएंगे… इटली?’ उन्होंने कहा, ‘इटली हिंदुओं और सिखों को स्वीकार नहीं करेगा, क्योंकि वे गरीब हैं.’

राहुल गांधी ने क्या कहा था?
बता दें कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) की तुलना नोटबंदी-जीएसटी से की थी. उन्होंने कहा कि ये दोनों कानून देश की जनता पर नोटबंदी की तरह टैक्स होगा. इससे जीएसटी बढ़ जाएगी.

PM MODI

पीएम नरेंद्र मोदी

राहुल गांधी ने कहा, ‘केंद्र सरकार देश को बांटने में लगी है. एनपीआर हो या एनआरसी, यह देश के गरीबों पर एक टैक्स है. नोटबंदी देश के गरीबों पर एक टैक्स था. नोटबंदी में लोगों को अपने पैसे निकालने के लिए पैसे देने पड़े, यह भी ठीक वैसी ही स्थिति है. गरीब आदमी अफसर के पास जाएगा, अपने कागज दिखाइए, नाम में कुछ गड़बड़ी है तो पैसे दीजिए. गरीबों की जेब से करोड़ों रुपये निकालकर फिर 15 लोगों की जेब में जाएगा.’

रेड्डी ने कहा कि राहुल गांधी को पहले सभी चीजों को समझना चाहिए तब सड़क पर आना चाहिए. कांग्रेस ने 2011 में कई प्रदेश में NPR राज्यों में लागू किया है. 2021 में भारत सरकार जनगणना करने का निर्णय लिया है. इससे रिजर्वेशन को बढ़ाने और घटाने में मदद मिलेगी.विपक्ष कर रही ओछी राजनीति
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने विपक्ष पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘वे लोगों को गुमराह करके नागरिकता कानून में हालिया बदलाव के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए भड़का रहे हैं.’

किशन रेड्डी ने आगे कि आज के युवा हिंसा नहीं चाहते, क्योंकि कोई भी इसे पसंद नहीं करता. राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, अखिलेश यादव और जो भी आंदोलन में भागीदारी हैं उनसे सवाल है, CAA में किसी भी भारतीय पर प्रभाव नहीं पड़ेगा, तो वे किसके लिए आंदोलन कर रहे हैं? (PTI इनपुट के साथ)

CAA को लेकर बीजेपी का जन जागरण अभियान आज से, वडोदरा से होगी शुरुआत

 

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: January 2, 2020, 10:22 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here