Sunday, September 27, 2020
Home Health Health Care / स्वास्थ्य रिसर्च में दावा- चाय पीने वालों की मस्तिष्क संरचना उनसे अच्छी होती...

रिसर्च में दावा- चाय पीने वालों की मस्तिष्क संरचना उनसे अच्छी होती है जो चाय नहीं पीते

रिसर्च में दावा- चाय पीने वालों की मस्तिष्क संरचना उनसे अच्छी होती है जो चाय नहीं पीते

चाय का हमारे मस्तिष्क की संरचना पर प्रभाव पड़ता है.

एक शोध (Research) में पता चला है कि जो लोग नियमित रूप से चाय(Tea) पीते हैं उनके मस्तिष्क की संरचना (Brain structure) उन लोगों से ज्यादा मजबूत होती है, जो लोग चाय नहीं पीते हैं. शोध में और क्या पता चला है आपको इसके बारे में बताते हैं.

दुनिया भर में सबसे अधिक पिया जाने वाला पेय पदार्थ चाय (Tea) है. चाय पीने वाले इससे कभी ऊबते नहीं हैं. क्योंकि दुनिया भर में इसे कई तरीके से बनाया और पिया जाता है. चाय करोड़ों लोगों की समस्या का समाधान है. चाय पीने से भूख नहीं लगती और गैस बनती है, ऐसा लोग हमेशा कहते हैं. लेकिन आज हम आपको चाय पीने के स्वास्थ लाभ (Health Benefit) के बारे में बता रहे हैं…

एक शोध में पता चला है कि चाय का हमारे मस्तिष्क की संरचना पर प्रभाव पड़ता है. अध्ययन पता चला है कि नियमित रूप से चाय पीने वाले उन लोगों की अपेक्षा फायदे में होते हैं, जो लोग चाय नहीं पीते हैं. शोध में बताया गया है कि नियमित रूप से चाय पीने वालों की मस्तिष्क संरचना उनसे बेहतर होती है, जो लोग चाय नहीं पीते.

क्या कहती है स्टडी
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार यह शोध एजिंग नामक पत्रिका में प्रकाशित हुआ है, जिसका शीर्षक है ‘हैबिटेल टी ड्रिंकिंग ब्रेन एफिशिएंसी: ब्रेन कनेक्टिविटी इम्पैक्ट से साक्ष्य.’ इस अध्ययन में लोगों के एक समूह को उनकी चाय पीने की आदतों के बारे में एक प्रश्नावली भरने के दी गई थी. इसमें सवाल था कि उनके पास कितने प्रकार की चाय है और कितनी बार वो लोग चाय पीते हैं. शोध के लिए जिन प्रतिभागियों को शामिल किया गया था उनकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक थी. सभी प्रतिभागियों ने अपने मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य, दैनिक जीवन शैली और समग्र स्वास्थ्य के बारे में विवरण प्रदान किया है. आंकड़ों के आधार पर, प्रतिभागियों को दो समूहों में विभाजित किया गया था. एक चाय पीने वाले और दूसरे चाय नहीं पीने वाले. इसके बाद सभी की एमआरआई स्कैन और अन्य जांच की गईं.शोध में क्या पता चला  

वैज्ञानिकों ने बताया कि चाय पीने वालों और गैर-चाय पीने वालों के बीच महत्वपूर्ण अंतर पाया है. रिपोर्ट में कहा गया है, ‘इस अध्ययन में दी गई धारणाएं इस परिकल्पना का आंशिक रूप से समर्थन करती हैं कि चाय पीने से मस्तिष्क संगठन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और चाय पीने वालों की मस्तिष्क संरचना में पाए गए वैश्विक नेटवर्क दक्षता में वृद्धि के कारण कार्यात्मक और संरचनात्मक संयोजनों में अधिक दक्षता  होती है. चाय पीने से मस्तिष्क में गोलार्द्धों के बीच संरचनात्मक कनेक्टिविटी में कम विषमता होती है.

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: