Friday, September 18, 2020
Home समाचार रूस ने दी Good News, इस हफ्ते से आम लोगों के लिए...

रूस ने दी Good News, इस हफ्ते से आम लोगों के लिए उपलब्ध होगी कोरोना वैक्सीन

रूस ने दी Good News, इस हफ्ते से आम लोगों के लिए उपलब्ध होगी कोरोना वैक्सीन

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (फाइल फोटो)

कोरोना (Corona) के लिए रूसी वैक्सीन ‘स्पूतनिक-V’ को इस हफ्ते आम नागरिकों के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा. शुरुआती कुछ समय तक यह वैक्सीन (Vaccine) फ्रंटलाइन वॉरियर्स के लिए ही उपलब्ध थी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 6, 2020, 10:40 PM IST

मास्को. दुनियाभर में कोरोना वायरस (Coronavirua) के बढ़ते मामलों के बीच रूस इस हफ्ते से स्पूतनिक-वी वैक्सीन को आम नागरिकों के लिए जारी कर देगा. इस वैक्सीन (Vaccine) को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को लॉन्च किया था. इस वैक्सीन को मॉस्‍को के गामलेया रिसर्च इंस्टिट्यूट ने रूसी रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर एडेनोवायरस को बेस बनाकर तैयार किया है. रूसी न्यूज एजेंसी TASS ने रशियन एकेडमी ऑफ साइंसेस में डेप्युटी डायरेक्टर डेनिस लोगुनोव के हवाले से कहा कि स्पूतनिक वी वैक्सीन को रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय की अनुमति के बाद व्यापक उपयोग के लिए जारी किया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्रालय इस वैक्सीन का टेस्ट कुछ दिनों में शुरू करने जा रहा है और हम कुछ ही दिनों में इसकी अनुमति हासिल कर लेंगे.

उन्होंने यह भी कहा कि नागरिक उपयोग के लिए वैक्सीन की एक बैच को अधिकृत करने की एक निश्चित प्रक्रिया है. इसे मेडिकल वॉचडॉग Roszdravnadzor की गुणवत्ता जांच पास करना होगा। 10 से 13 सितंबर के बीच, हमें नागरिक उपयोग के लिए वैक्सीन के एक बैच को जारी करने की अनुमति प्राप्त करनी है. इसके बाद हम इस वैक्सीन को आम लोगों के लिए जारी कर देंगे. सेशेनॉव यूनिवर्सिटी में टॉप साइंटिस्ट वादिम तारासॉव ने दावा किया है कि देश 20 साल से इस क्षेत्र में अपनी क्षमता और काबिलियत को तेज करने के काम में लगा हुआ है. इस बात पर लंबे वक्त से रिसर्च की जा रही है कि वायरस कैसे फैलते हैं. इन्हीं दो दशकों की मेहनत का नतीजा है कि देश को शुरुआत शून्य से नहीं करनी पड़ी और उन्हें वैक्सीन बनाने में एक कदम आगे आकर काम शुरू करने का मौका मिला.

ये भी पढ़ें: ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी बोले- कोरोना संकट में कोई भी मित्र देश काम नहीं आया

कैसे पड़ा वैक्सीन का नामइस वैक्सीन का नाम रूस की पहली सैटेलाइट स्पूतनिक से मिला है रूस की वैक्सीन सामान्य सर्दी जुखाम पैदा करने वाले adenovirus पर आधारित है. इस वैक्सीन को आर्टिफिशल तरीके से बनाया गया है. यह कोरोना वायरस SARS-CoV-2 में पाए जाने वाले स्ट्रक्चरल प्रोटीन की नकल करती है जिससे शरीर में ठीक वैसा इम्यून रिस्पॉन्स पैदा होता है जो कोरोना वायरस इन्फेक्शन से पैदा होता है. यानी कि एक तरीके से इंसान का शरीर ठीक उसी तरीके से प्रतिक्रिया देता है जैसी प्रतिक्रिया वह कोरोना वायरस इन्फेक्शन होने पर देता लेकिन इसमें उसे COVID-19 के जानलेवा नतीजे नहीं भुगतने पड़ते हैं. मॉस्को की सेशेनॉव यूनिवर्सिटी में 18 जून से क्लिनिकल ट्रायल शुरू हुए थे. 38 लोगों पर की गई स्टडी में यह वैक्सीन सुरक्षित पाई गई है. सभी वॉलंटिअर्स में वायरस के खिलाफ इम्यूनिटी भी पाई गई.

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: