Friday, September 18, 2020
Home Health Health Care / स्वास्थ्य शाकाहार: क्या आप इस आंदोलन में शामिल होना चाहते हैं?

शाकाहार: क्या आप इस आंदोलन में शामिल होना चाहते हैं?

शाकाहार: क्या आप इस आंदोलन में शामिल होना चाहते हैं?

शाकाहार तेजी से बढ़ने वाले आंदोलनों में से एक है.

हर साल 1अक्‍टूबर (1 October) को पूरी दुनिया में विश्व शाकाहारी दिवस (World Vegetarian Day) मनाया जाता है. ताकि लोग जागरूक हों और शाकाहार अपनाएं. इससे कई बीमारियों (Diseases) से बचाव रहता है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 8, 2020, 5:23 PM IST

समाज में मानव प्रजाति के खान-पान को मुख्यतः दो भागो में बांटा गया है जिसमें एक को मांसाहारी (Non Vegetarian) और दूसरे को शाकाहारी (Vegan) वर्ग में रखा गया है. फल, सब्जी, अनाज, बादाम, दुग्ध उत्पाद, इत्यादि का सेवन करने वाले को शाकाहारी व्यक्ति माना गया है, जबकि शाकाहार भोजन के साथ पशुओं के मांस, मुर्गा, मछली, केकड़ा-झींगा, अंडा इत्यादि का सेवन करने वाले को मांसाहारी वर्ग (Non-Vegetarian Category) में रखा गया है. शाकाहार शब्द मुख्यतः मानव प्रजाति के लिए ही प्रयोग किया जाता है. कोई इंसान क्या खाए और क्या नहीं खाए ये उसकी पसंद का मामला है और इसी के तहत कुछ लोग शाकाहारी होते हैं तो कुछ मांसाहारी.

समाज में बहुत से लोग धर्म के कारण भी शाकाहारी भोजन का सेवन करते हैं, जबकि बहुत से लोगों को जानवरों की तकलीफ़ देखकर दुख होता है तो वो शाकाहारी हो जाते हैं. सनातन यानी हिन्दू धर्म भी शाकाहार पर आधारित है. जैन धर्म भी शाकाहार का समर्थन करता है. समाज में कुछ लोग अपना रहन-सहन बदलने के लिए शाकाहारी हो जाते हैं. शाकाहारी बनने के उनके अपने तर्क होते हैं.

ये भी पढ़ें – Monsoon Season Kitchen Garden: मानसून के समय लोगों को दे सकता है स्वस्थ जीवन

1 अक्‍टूबर को मनाते हैं विश्व शाकाहारी दिवसपिछले कुछ दिनों में शाकाहार समूचे संसार में सबसे तेजी से बढ़ने वाले आंदोलनों में से एक है. इसे बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक वर्ष 1अक्‍टूबर को पूरी दुनिया में विश्व शाकाहारी दिवस (World Vegetarian Day) मनाया जाता है. विश्व शाकाहारी दिवस पर शाकाहारी होने के फायदे और पर्यावरण की सुरक्षा में योगदान के बारे में लोगों को जागरूक किया जाता है और शाकाहार दिवस को एक अभियान और जागरूकता के तौर पर मनाया जाता है. विश्व स्तर पर शाकाहारी आंदोलन की मजबूती का मूल कारण यह है कि पशु-पक्षियों के प्रति करुणा रखने वाले लोगों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है.

ये भी पढ़ें – Corona virus: हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स के लिए वीडियो कंसल्टेंसी का विकल्‍प चुनें, मगर अपनाएं ये तरीका

बीमारियों से रहेगा बचाव
भारत में शाकाहार आंदोलन तेजी से फैल रहा है और इस आंदोलन को फैलाने में धर्म का भी सहारा लियाजा रहा है. वेबसाइट पर होटलों के ग्राहकों के लिए शाकाहारी भोजन की पेशकश की जा रही है. शाकाहारी आंदोलन में शामिल होने के मुख्य फायदा यह है कि जब हम शाकाहारी हो जाएंगे तो बहुत सी बीमारियों से बच जाएंगे जिसमें मुख्य रूप से दिल से सम्बंधित बीमारी है. इसके अलावा डायबिटीज, वजन कम करने में मददगार, पाचन में लाभदायक, हाई ब्लड प्रेशर में फायदेमंद इत्यादि शामिल है.

! function(f, b, e, v, n, t, s) { if (f.fbq) return; n = f.fbq = function() { n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments) }; if (!f._fbq) f._fbq = n; n.push = n; n.loaded = !0; n.version = ‘2.0’; n.queue = []; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e)[0]; s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’); fbq(‘init’, ‘482038382136514’); fbq(‘track’, ‘PageView’);

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: