शिकार के बाद आराम करने के लिए नदी में कूद गया बाघ, टूट गई रीढ़ की हड्डी

नदी में चट्टानों के बीच फंसे बाघ की मौत

वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि जंगली जानवर का शिकार करने के बाद बाघ (Tiger) नदी में आराम करने के लिए आया था. लेकिन चट्टानों के बीच फंसकर उसकी मौत हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    November 7, 2019, 6:23 PM IST

चंद्रपुर. महाराष्ट्र (Maharashtra) के चंद्रपुर जिले में एक बाघ (Tiger) जानवर का शिकार करने के बाद नदी में कूद गया. जहां चट्टानों के बीच फंसकर बाघ जख्मी हो गया, जिसकी बाद में मौत (Death) हो गई. वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बाघ की रीढ़ की हट्टी टूट गई थी.

अधिकारी ने बताया कि बाघ (Tiger) को बुधवार को यहां से करीब 27 किमी दूर स्थित कुनाड़ा गांव के पास सिरसा नदी (River) में चट्टानों के बीच फंसा पाया गया था. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि 35 फीट ऊंचे पुल से कूदने के कारण बाघ की रीढ़ की हड्डी में चोट लग गई. उन्होंने बताया कि बाघ को बचाने का प्रयास किया गया, लेकिन बाघ पास रखे पिंजरे में घुसने में असफल रहा. पिंजरे को खींचने के प्रयास में बाघ के दातों में भी चोट आई.

शिकार के बाद आराम करने आया था बाघ
चंद्रपुर क्षेत्र के मुख्य वन संरक्षक एस वी रामाराव ने कहा, ‘गुरुवार को बाघ मृत पाया गया.’ अधिकारी ने बताया कि जंगली जानवर का शिकार करने के बाद बाघ इस नदी में कूदकर आराम करने के लिए आया, जहां इन चट्टानों के बीच उसे चोट लग गई. बुधवार को सूचना मिलने पर वन अधिकारी बचाव के लिए गए, लेकिन कम रोशनी के कारण बचाव अभियान रोकना पड़ा.मौत का सही कारण नहीं पता
अधिकारी ने कहा कि रात में बाघ की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए कुछ वनकर्मियों को तैनात किया गया था. रामाराव ने कहा, “बाघ ने सुबह तक कोई गतिविधि नहीं दिखाई.’ उन्होंने कहा कि शव को पानी से बाहर निकाला गया. मौत का सही कारण शव परीक्षण के बाद पता चलेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: November 7, 2019, 6:20 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here