Friday, September 18, 2020
Home समाचार सातवीं बार टली NCP स्टैंडिंग कमेटी की बैठक, प्रचंड-ओली के बीच मतभेद...

सातवीं बार टली NCP स्टैंडिंग कमेटी की बैठक, प्रचंड-ओली के बीच मतभेद बना मुद्दा…. | rest-of-world – News in Hindi

सातवीं बार टली NCP स्टैंडिंग कमेटी की बैठक, प्रचंड-ओली के बीच मतभेद बना मुद्दा....

पीएम केपी शर्मा ओली और पुष्प कमल दहल (फाइल फोटो)

NCP के सह अध्यक्ष पुष्प कमल दहल उर्फ ‘प्रचंड’ ने साफ किया है कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के साथ उनका कोई समझौता नहीं हुआ है. उन्होंने इस तरह के दावों को अफवाह बताते हुए कहा कि उन्होंने नवंबर में आम सम्मेलन आयोजित करने के प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष केपी शर्मा ओली के प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया है.

काठमांडू. नेपाल (Nepal) की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने रविवार को एक बार फिर अपनी शक्तिशाली स्थायी समिति की महत्वपूर्ण बैठक को दो दिन के लिए स्थगित कर दिया है. जानकारी के अनुसार, रविवार को अपराह्न तीन बजे होने वाली स्थायी समिति की बैठक को मंगलवार सुबह 11 बजे के लिए टाल दिया गया है. यह जानकारी NCP के सेंट्रल ऑफिस ने दी है. बता दें, यह सातवीं बार है जब बैठक को स्थगित कर दिया गया है. स्थायी समिति के सदस्य गणेश शाह ने बताया कि रविवार सुबह एक अनौपचारिक बैठक के दौरान, पार्टी के शीर्ष नेताओं ने मतभेदों को सुलझाने के लिए दो दिनों के लिए बैठक स्थगित करने का फैसला लिया है.

वहीं दूसरी तरफ, नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) के सह अध्यक्ष पुष्प कमल दहल उर्फ ‘प्रचंड’ ने साफ किया है कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के साथ उनका कोई समझौता नहीं हुआ है. उन्होंने इस तरह के दावों को अफवाह बताते हुए कहा कि उन्होंने नवंबर में आम सम्मेलन आयोजित करने के प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष केपी शर्मा ओली के प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया है. शनिवार को ओली और प्रचंड के बीच चार घंटे तक चली बैठक में आम सम्मेलन को लेकर सहमित बनने की खबर आई थी, जिससे प्रचंड खेमे के बड़े नेता नाराज हो गए थे. प्रचंड ने रविवार सुबह खुमल्टार में अपने निवास पर पार्टी के चार बड़े नेताओं माधव कुमार नेपाल, झाला नाथ खनाल, उपाध्यक्ष बामदेव गौतम और प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ को बुलाया और अपना पक्ष रखा. इन नेताओं ने कथित समझौते को लेकर असंतोष जाहिर किया था. प्रचंड के ताजा रुख से यह साफ हो गया है कि ओली की मुश्किलें अभी खत्म नहीं हुई हैं. हालांकि, इसके लिए चीन की ओर से कापी जोर लगाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने ब्रिटिश सांसदों के ट्रिप पर खर्चे 30 लाख रुपए, क्या है भारत से कनेक्शन ?

नहीं हुआ कोई समझौतानेपाल की एक न्यूज वेबसाइट कांतिपुर की एक खबर में बताया गया है कि प्रचंड ने साफ कर दिया है कि कल कोई समझौता नहीं हुआ है. एक नेता के अनुसार दहल ने आम सम्मेलन के प्रस्ताव को भ्रमित करने और स्टैंडिंग कमिटी की भावना को तोड़ने का प्रयास बताया. गौरतलब है कि स्टैडिंग कमिटी के 44 में से 30 सदस्यों ने ओली से पीएम और पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा मांगा था. ओली इससे इनकार करते आ रहे हैं. दहल ने कहा है कि वे समिति के निर्णय के अनुसार सामूहिक रूप से आगे बढ़ेंगे. दहल के हवाले से बताया गया है कि समझौतो की बात महज अफवाह है. इस बीच रविवार दोपहर 3 बजे होने वाली स्टैंडिंग कमिटी की बैठक को टाल दिया गया है. पार्टी के भीतर कलह को समाप्त करने के लिए ओली और प्रतिद्वंद्वी गुट की अगुवाई कर रहे प्रचंड को बातचीत के लिए और समय देने के वास्ते स्थायी समिति की बैठक रविवार तक के लिए स्थगित कर दी गई थी. इससे पहले हुई बैठकों में ओली ने प्रचंड नीत धड़े की मांग पर एनसीपी का अध्यक्ष पद छोड़ने या इस्तीफा देने से इनकार कर दिया था.

Source link

Leave a Reply

Most Popular

अनुराग कश्यप और कंगना रनौत ने युद्ध का बिगुल बजा दिया – “आप अपने साथ चार से पांच लोगों को ले जाओ और चीन...

अभिनेत्री कंगना रनौत पिछले कुछ महीनों से सुर्खियां बटोर रही हैं। हाल के दिनों में, राजनीतिक पार्टी शिवसेना के साथ...

Entertainment News Live: आज सामने आएगी सुशांत की विसरा रिपोर्ट, खुलेगा मौत का राज

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं. सुशांत केस में सीबीआई की एसआईटी टीम एम्स...

पानी के तेज़ बहाव की वजह से फंसा कुत्ता, होम गार्ड ने अपनी जान जोखिम में डालकर बचाया|viral Videos in Hindi – हिंदी...

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी...
%d bloggers like this: