धर्म डेस्क, अमर उजाला, Updated Wed, 06 Nov 2019 11:31 AM IST

आशा दशमी व्रत महाभारत काल से मनाया जाता रहा है कहते है कि आशा दशमी में भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। आशा दशमी का व्रत इस बार 7 नवंबर को रखा जाएगा। यह व्रत हर महीने के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस व्रत का महत्त्व भगवान श्रीकृष्ण ने पार्थ को बताया था और इस व्रत को आरोग्य व्रत भी कहा जाता है क्योंकि इस व्रत के प्रभाव से शरीर निरोगी रहता है, मन शुद्ध रहता है और व्यक्ति को असाध्य रोगों से मुक्ति मिलती है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here