कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सोशल मीडिया पर कई तरह से नुस्खे वायरल हो रहे हैं.

Fact Check: कोरोना वायरस (Coronavirus) का अभी तक न तो कोई इलाज मिला है और न ही कोई वैक्सीन. हालांकि, सोशल मीडिया पर इस वायरस के इलाज और बचाव के कई दावे किए जा रहे हैं.

नई दिल्ली. चीन से मिले कोरोना वायरस (Coronavirus) से दुनिया के तमाम देश जूझ रहे हैं. चीन के बाद इस वायरस से इटली, ईरान और अमेरिका में तबाही मचाई है. भारत में करोना के अब तक 472 कंफर्म मामले सामने आए हैं. कोरोना का अभी तक न तो कोई इलाज मिला है और न ही कोई वैक्सीन. हालांकि, सोशल मीडिया पर इस वायरस के इलाज और बचाव के कई दावे किए जा रहे हैं. ऐसे भी दावे किए जा रहे हैं कि गोमूत्र पीने, लहसुन और नमक वाले पानी से गरारे करने से कोरोना के संक्रमण से बचा जा सकता है. आइए जानते हैं क्या है इन दावों की सच्चाई:-दावा नंबर 1:- गर्मी आने पर कोरोना का असर खत्म हो जाएगा.सच्चाई:- वैज्ञानिकों और जानकारों की मानें, तो अभी तक ऐसा पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता है कि तापमान बढ़ने के साथ-सात कोरोना का असर खत्म होगा या नहीं. इसे सऊदी अरब के उदाहरण से समझ सकते हैं. सऊदी अरब में अभी 30 डिग्री के करीब तापमान है, लेकिन फिर भी वहां संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. ऐसे में ये दावा झूठा साबित होता है.दावा नंबर 2:- गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारे से संक्रमण नहीं होगा.सच्चाई:- विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, अभी तक ऐसा कुछ साबित नहीं हो पाया है कि गर्म पानी में नमक डालकर गरारे करने से कोरोना के संक्रमण से बचा जा सकता है. जानकार तो ये भी बताते हैं कि ज्यादा नमक खाने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है.दावा नंबर-3:- संक्रमण से बचने के ज्यादा गर्म पानी से नहाएं.सच्चाई:- विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, ये दावा पूरी तरह से गलत है. हमारे शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक होता है. ऐसे में ज्यादा गर्म पानी से नहाना नुकसानदेह ही होगा.दावा नंबर 4:- लहसुन से खत्म हो सकता है कोरोना वायरस का असर.
सच्चाई:- इस बात का कोई सबूत नहीं है. ज्यादा लहसुन खाना सेहत के लिए फायदेमंद नहीं होता.दावा नंबर 5:- गिलोय, तुलसी खाने से नहीं होगा संक्रमण.सच्चाई:- ये बस दिल को दिलासा देने की बात है. बेशक गिलोय, तुलसी जावित्री और लौंग शरीर को इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं. लेकिन, हमें इनकी नियमित मात्रा ही लेनी चाहिए. अगर आपके शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत है, तो आप किसी वायरस से ज्यादा अच्छी तरह से लड़ सकते हैं. हालांकि, इम्यूनिटी एक या दो दिन में नहीं, बल्कि महीनों में मजबूत होती है.दावा नंबर 6:- गोमूत्र का सेवन करने से संक्रमण नहीं होगा.सच्चाई:- बेशक गोमूत्र में औषधीय गुण होते हैं. लेकिन, अभी तक इसके सबूत नहीं मिले हैं कि गोमूत्र पीने या गोबर सूंघने से संक्रमण नहीं होगा.ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस के शिकार शख्स की नहीं होगी अटॉप्सी, न ही शव छू पाएंगे परिजन- सरकार ने दिए निर्देश

Notsocommon पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: March 24, 2020, 9:23 AM IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here