Sunday, September 27, 2020
Home Viral Covid 19: लॉकडाउन के चलते छिना काम, बढ़ई ने दिन-रात मेहनत कर...

Covid 19: लॉकडाउन के चलते छिना काम, बढ़ई ने दिन-रात मेहनत कर बनाई लकड़ी की साइकिल

Covid 19: लॉकडाउन के चलते छिना काम, बढ़ई ने दिन-रात मेहनत कर बनाई लकड़ी की साइकिल

लकड़ी की ये साइकिल 15 हजार में आपकी हो सकती है (pic courtesy: Thebetterindia)

पंजाब (Punjab) के जीरकपुर के निवासी एक बढ़ई धनीराम सग्गू ने इस मुश्किल समय का इस्तेमाल करते हुए एक लकड़ी की साइकिल (Wooden Bicycle) बनाई है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 11, 2020, 6:30 PM IST

कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण कई लोगों का रोजगार छिन गया और वो बेसहारा होकर भटकने को मजबूर हैं. अर्थव्यवस्था को भी तगड़ा झटका लगा है जिसकी वजह से कई सेक्टर्स में जॉब्स गई हैं. इसे लेकर कई लोगों में भारी निराशा है. संकट के इस समय में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की थी कि सब मिलकर एक आत्मनिर्भर भारत का निर्माण करें और वोकल फॉर लोकल का संदेश भी दिया था. संकट के इस समय में लोगों ने अपने कौशल और बुद्धि का इस्तेमाल करते हुए मुश्किल समय को भी विशेष अवसर में बदल डाला. परिवार का भरण-पोषण करने के लिए यह जरूरी भी है. पंजाब के जीरकपुर के निवासी एक बढ़ई धनीराम सग्गू ने इस मुश्किल समय का इस्तेमाल करते हुए एक लकड़ी की साइकिल बनायी है. इंटरनेट पर लोगों को धनीराम सग्गू की बनाई हुई लकड़ी की ये साइकिल इतनी ज्यादा पसंद आ रही है कि यह सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें: 81 साल की दादी ने 85 फुट लंबे पोल पर किया पोल डांस, खुला रह गया सबका मुंह

द बेटर इंडिया की खबर के अनुसार, कोरोना की वजह से धनीराम सग्गू का लकड़ी का काम धाम सब चौपट हो चुका था. फर्नीचर या सामानों का कोई नया ऑर्डर नहीं मिल रहा था. ऐसे समय में धनीराम सग्गू ने पास मौजूद कुछ लकड़ी, प्लाई और एक टूटी हुई साइकिल के पुर्जों को जोड़कर लकड़ी की साइकिल बनाने की सोची. धीरे-धीरे उन्होंने इस काम को अंजाम देना शुरू किया. लकड़ी की साइकिल बनाने के पीछे धनीराम सग्गू का उद्देश्य लोगों को पर्यावरण संरक्षण के लिए जागरूक करना है.

ऐसे बनानी शुरू की साइकिल:धनीराम सग्गू ने साइकिल बनाने के लिए पहले पुर्जों को देखकर अच्छे से समझा कि कौन सा पुर्जा कहां लगेगा और साइकिल कैसे बनेगी. इसके बाद उन्होंने इसके पेन्सिल की मदद से कागज़ पर बनाया. साइकिल बनाने में उन्होंने अपनी पुरानी टूटी साइकिल की रिम, सीट और पैडल का इस्तेमाल किया. इसके साथ ही साइकिल के फ्रेम के लिए उन्होंने कैनेडीयन वुड जोकि काफी हलकी होती है, का इस्तेमाल किया.

Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: