• पिछले महीने अमेरिकी अधिकारियों ने हमजा के मारे जाने की बात कही थी, अब ट्रम्प ने इसकी पुष्टि की
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- हमजा के मारे जाने से अलकायदा को काफी नुकसान पहुंचा है
  • 2011 में ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद हमजा अलकायदा की कमान संभाल रहा था

Dainik Bhaskar

Sep 14, 2019, 08:24 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को अलकायदा के सरगना रहे ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा (30) के मारे जाने की पुष्टि की। ट्रम्प के मुताबिक, हमजा की मौत अफगानिस्तान/पाकिस्तान में अमेरिकी हमले में हुई, लेकिन कब हुई इसकी जानकारी नहीं है। हालांकि, पिछले महीने यूएस मीडिया ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से हमजा की मौत का दावा किया था।

 

ट्रम्प ने कहा, “हमजा के मारे जाने से न सिर्फ अलकायदा को नुकसान हुआ है बल्कि इस आतंकी संगठन की गतिविधियों के कमजोर होने के संकेत भी मिल रहे हैं। हमजा कई आतंकी समूहों से साथ काम करने और हमले की योजना बनाने के लिए जिम्मेदार था।”

 

अमेरिका ने हमजा पर इनाम घोषित किया था

मार्च में अमेरिका ने हमजा का पता बताने वाले को 10 लाख डॉलर (करीब 7.1 करोड़ रु.) का इनाम देने का ऐलान किया था। अमेरिका ने कहा था कि हमजा पिता की मौत का बदला लेने के लिए उस पर और उसके सहयोगी देशों पर हमले की साजिश रच रहा है। इसी महीने में सऊदी अरब ने भी हमजा की नागरिकता रद्द कर दी थी।

 

हमजा ने वर्ल्ड ट्रेड सेंटर हमले के आरोपी की बेटी से शादी की

हमजा ने 9 सितंबर 2001 को अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर हमले में शामिल आतंकी मुहम्मद अता की बेटी से शादी की थी। अता विमान को हाईजैक करने वाले आतंकियों का चीफ था। ओसामा के सौतेले भाइयों अहमद और हसन ने ब्रिटिश अखबार द गार्जियन से बात करते हुए शादी की पुष्टि की थी।

 

लादेन 2011 में मारा गया था

ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान के एबटाबाद में 2 मई 2011 में अमेरिका के नेवी सील कामांडो की कार्रवाई में मारा गया था। अमेरिका ने हमजा को “स्पेशियली डेजिगनेटेड इंटरनेशनल टेररिस्ट” की लिस्ट में डाला था। ओसामा को भी इसी लिस्ट में रखा गया था।

 

ओसामा की तीन बीवियों में से एक का बेटा था हमजा

हमजा ओसामा की जिंदा बची तीन बीवियों में से एक का बेटा था। ये तीनों एबटाबाद में अमेरिकी हमले के वक्त लादेन के साथ रह रही थीं। ओसामा की मौत के बाद उसकी पत्नियां और बच्चे सऊदी अरब लौट गए थे, जहां उन्हें पूर्व शहजादे मोहम्मद बिन नाएफ ने शरण दी थी।

 

हमजा के ऑडियो मैसेज रिकॉर्ड

2017 में एफबीआई के एजेंट रहे अली सौफान ने बताया था कि हमजा के 4 ऑडियो मैसेज रिकॉर्ड किए गए। इनमें वह कह रहा है- “अमेरिका के लोगों हम आ रहे हैं और तुम्हें अहसास होने वाला है।” दूसरे मैसेज में सुनाई देता है, “तुमने मेरे पिता…इराक…अफगानिस्तान के साथ जो किया हम उसका बदला लेने जा रहे हैं।”



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here