Friday, September 18, 2020
Home Health Health Care / स्वास्थ्य Happy Father’s Day 2020 why third sunday of june celebrates as fathters...

Happy Father’s Day 2020 why third sunday of june celebrates as fathters day  | अमेरिका में 110 साल पहले शुरू हुआ था फादर्स डे, सोनोरा नाम की एक बेटी की जिद से जुड़ा है इस दिन का रिश्ता


  • 1909 में मदर्स डे को देखकर आया था फादर्स डे मनाने का विचार, सोनोरा डॉड नाम की लड़की ने यह शुरुआत की
  • 1908 में यह अनौपचारिक रूप से शुरू हुआ और 1966 में जून के तीसरे रविवार को मनाने पर सहमति बनी

दैनिक भास्कर

Jun 21, 2020, 03:00 PM IST

पिता रोटी है, कपड़ा है, मकान है – पिता छोटे से परिंदे का बड़ा आसमान है –  यूं तो पिता को शब्दों में बयां करना मुश्किल है लेकिन हिंदी में माता-पिता पर सबसे अच्छी कविताएं लिखने वाले  कवि पंडित ओम व्यास ओम की कविता  की ये दो पंक्तियां काफी कुछ कह जाती हैं।

आज दुनियाभर में तीन खास दिन मनाए जा रहे हैं योगा डे, म्यूजिक डे और फादर्स-डे। इतिहास के पन्नों में दर्ज है कि दुनिया में पहला फादर्स डे अमेरिका से मना था। यहां के पश्चिम वर्जीनिया के फेयरमॉन्ट शहर में 5 जुलाई 1908 में यह दिन मनाया गया था।

इसके पीछे दो किस्से हैं जिन पर आगे चलकर इतिहासकारों में इसे मनाने को लेकर भी मतभेद हुए। लेकिन, सोनोरा डॉड नाम की लड़की की जिद भरी कोशिशों से 1924 में अमेरिकी राष्ट्रपति केल्विन कोली ने देश में फादर्स डे मनाने पर अपनी सहमति दी। इसके बाद 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जानसन ने जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा की।

फादर्स डे शुरू होने को लेकर 2 किस्से 

1. कोयला खदान की दुर्घटना से जुड़ी फादर्स डे मनाने की कहानी भी बहुत खास है। 6 दिसंबर 1907 में मोनोगाह में कोयले की खान में एक भयंकर दुर्घटना हुई थी, जिसमें कुल 362 लोग मारे गए थे। मृतक पिताओं के सम्मान में गोल्डन क्लेटन नाम के व्यक्ति ने एक विशेष स्मृति दिन का आयोजन किया। इसके बाद से ही 1908 से हर साल इस दिन को फादर्स डे के रूप में मनाया जाने लगा। 

2. सोनेरा डॉड से जुड़ा किस्सा, कुछ इतिहासकार का कहना है कि इसे 1908 में पहली बार मनाया गया था। हालांकि, इसका आधिकारिक विवरण नहीं है। कुछ इतिहासकार इसकी आधिकारिक शुरुआत 19 जून 1910 से मानते हैं। इसकी शुरुआत सोनेरा डॉड नाम की लड़की ने अपने पिता के सम्मान में की थी। 

सोनोरा, जब 16 साल की थी तब उसकी मां उसे और उसके 5 छोटे भाइयों को छोड़कर चली गईं थी। इसके बाद पूरे घर और बच्चों की जिम्मेदारी सोनोरा के पिता पर आ गई थी।  उस समय सोनेरा डॉड के पिता विलियम जैकसल स्मार्ट ने उनकी परवरिश की। सिविल वॉर के सिपाही रहे विलियम स्मार्ट ने सोनोरा डॉड को मां की कमी कभी खलने नहीं दी।

3. पहले अमेरिका और फिर दुनियाभर में फैला ये दिन।  सोनोरा ने 1909 में मांओं के सम्मान में मनाए जाने वाले मदर्स डे के बारे में सुना। उसे लगा कि जब मां के लिए कोई दिन हो सकता है तो पिता के लिए भी ऐसा होना चाहिए। सोनोरा ने इसके लिए कैंपेन शुरू किया और एक याचिका दायर की। इसमें सोनोरा ने लिखा था कि, उसके पिता का जन्मदिन 5 जून को आता है और अपने बच्चों के लिए उनके समर्पण के सम्मान में वह चाहती है कि जून में ही फादर्स डे मनाया जाए। 

उस समय सोनोरा के इस कैंपेन को एक छोटी लड़की के दिमाग का फितूर समझकर किसी ने साथ नहीं दिया। लेकिन, सोनारा ने भी फादर्स डे मनाने की ठान ली थी। इसके लिए उसने अमेरिकी कांग्रेस के नेताओं से बात की और वॉशिंगटन कैंपेन किया।

सोनोरा के प्रयासों से ही आगे चलकर जून के महीने में फादर्स डे मनाने को अमेरिका में कानूनी मान्यता मिली और इस दिन छुट्‌टी भी घोषित की गई। इसके बाद फादर्स डे का ट्रेंड यूरोप होता हुआ दुनिया के बाकी देशों में पहुंच गया। 

तस्वीरों में फादर्स डे का इतिहास और सोनोरा की कहानी

विलियम का जन्मदिन 5 जून को था और सोनोरा की इच्छा थी कि वह इसी दिन को फादर्स डे के रूप में मान्यता दिलाए। लेकिन, छुट्‌टी वाले दिन के कारण फिर इसे 10 जून और आगे चलकर तीसरे रविवार को मनाने पर सहमति बनी।

सोनोरा डॉड और उनके पिता विलियम जैकसन स्मार्ट। सिविल वॉर में देश के लिए लड़ने वाले सिपाही विलियम ने दो शादियां की थीं। दुर्भाग्य से दोनों पत्नियों के निधन के बाद उन्होंने अपने 6 बच्चों की परवरिश खुद की। उनकी बेटी सोनोरा ने पिता के इसी समर्पण की याद में फादर्स डे को मनाने की शुरुआत की। इसमें वहां के चर्च ने भी सोनोरा की काफी मदद की।

1910 के मोंटाना के द रिवर प्रेस ऑफ फोर्ट बेंटन अखबार की एक प्रति के साथ सोनोरा स्मार्ट डॉड की पोती बेट्सी रोड्डी। उस साल पहली बार यह दिन वॉशिंगटन के स्पोकेन में मनाया गया गया था और इसी अखबार ने पहली बार फादर्स डे इवेंट की रिपोर्ट प्रकाशित की थी। इसमें उनकी दादी सोनोरा को इसका क्रेडिट दिया गया था।

आज फादर्स डे पर ये खबरें भी पढ़ें :

फादर्स डे स्पेशल: एक जुनूनी पिता की कहानी / हादसों में बेटा-बेटी खोए, 50 की उम्र में सरोगेसी से पिता बने; अब 8 साल की बेटी को चैंपियन बनाने का जुनून

फादर्स डे / पिता को कोविड-19 इंश्योरेंस कवर से वित्तीय सुरक्षा दें, इससे बुरे समय में मिलेगी मदद

फादर्स डे / पिता ऋषि कपूर को याद कर भावुक हो गईं रिद्धिमा, पुरानी तस्वीरों के साथ लिखा- ‘काश आप वापस आ जाते’

हैप्पी फादर्स डे / अमिताभ बच्चन, अजय देवगन से लेकर ट्विंकल खन्ना तक, सेलेब्स ने इमोशनल नोट के साथ पिता को किया याद

फादर्स डे: पाक की 5 अफसर बहनें / पांचों बहनों ने सीएसएस एग्जाम पास कर रचा इतिहास, पापा को मानती हैं रोल मॉडल 

आज फादर्स डे / पिता को समर्पित दो लघुकथा और एक कविता जो एक बार फिर आपको पापा के करीब ले जाएंगी

हैप्पी फादर्स डे / अपने पिता को गिफ्ट कर सकते हैं ये 15 बेहतरीन गैजेट्स, रोजमर्रा के कामों में हाथ बटाएंगे साथ ही उनकी सेहत का भी ख्याल रखेंगे

फादर्स डे / पिता की ड्राइविंग को आसान, सुरक्षित और मजेदार बनाने के लिए गिफ्ट करें ये ऑटो आइटम; कार सैनिटाइज करने की टिप्स भी जरूर दें

फादर्स डे / पापा के मोबाइल पर कराएं पूरे साल का रीचार्ज, इससे उन्हें बार-बार रीचार्ज के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान



Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: