Dainik Bhaskar

Sep 05, 2019, 07:24 PM IST

हेल्थ डेस्क. योग, जिम्नास्टिक, डांस और एक्रोबेट्स के मिले-जुले रूप को एरियल योग कहते हैं। इससे न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक तकलीफें भी दूर होती हैं। सेलेब्स के बीच ट्रेंडिंग एिरयल योग आम लोगों को फिट रखने का बेहतर विकल्प साबित हो रहा है। योग विशेषज्ञ कल्पना कुंभारे से जानिए एरियल योग के बारे में…

 

सिल्क कपड़े से करें एरियल योग


  1. एरियल योग कैसे करें ?

    इस योगा में 3-4 मीटर सिल्क कपड़े को छत या कोई मजबूत सहारे से बांध दें। एरियल योग के माध्यम से आप शीर्षासन, उष्ट्रासन या अन्य कोई आसन भी आसानी से कर सकते हैं। शीर्षासन में पैरों को कपड़े से लपेटकर बांध दिया जाता है। इसमें कपड़े की ऊंचाई इतनी रखी जाती है कि आपके हाथ जमीन पर आसानी से टिक सकें। इसमें पैरों को कपड़े से लपेटकर पकड़ बनाने की कोशिश की जाती है। इससे पैरों की स्ट्रेचिंग सही तरीके से होती है।

     


    • 320 कैलोरी बर्न होती हैं नियमित रूप से लगभग 50 मिनट एरियल योग करने से।

       

  2. इसके फायदे

    • मसल्स मजबूत होते हैं।
    • कंधे और मेरुदंड में लचीलापन आता है। 
    • वजन कम करने में सहायक है। 
    • बॉडी टोनिंग के लिए फायदेमंद है। 
    • पीठ और कमर दर्द दूर करने में कारगर है। 
    • तनाव व डिप्रेशन दूर करने में लाभकारी है। 
    • शरीर में रक्त-संचार बढ़ाता है। 
    • डायबिटीज को नियंत्रित करने में उपयोगी है।
    • लिवर व पेट संबंधी समस्याओं से बचाने में लाभदायक है। 
    • शरीर में संतुलन लाता है।
    • 320 कैलोरी बर्न होती है नियमित रूप से लगभग 50 मिनट एरियल योग करने से।

  3. वैज्ञानिक पक्ष

    इस योग में शरीर बंधा होने के कारण मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है। इसे करते हुए स्ट्रेचिंग होने के कारण यह कई बीमारियों से बचाने में मदद करता है। गठिया या हड्डी रोग में एरियल योग करने से फायदा होता है। 


  4. कब न करें इसे

    • गर्भवती हो तो। 
    • आंखों की बीमारी होने पर।
    • चक्कर आना यानि वर्टिगो की समस्या हो तो।
    • हार्ट संबंधी समस्या होने पर।
    • हाई या लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो तो।
    • नाक बंद हो जाने पर।
      इस बात का रखें ध्यान : योग की इस विधा को योग्य प्रशिक्षक के मार्गदर्शन में ही करें।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here