• कैल्शियम-आयन सॉल्युशन पीने के बाद दवा पुराने आकार में आकर बाहर निकल जाती है
  • जेल नुमा दवा में लगा सेंसर एक माह तक पेट में रह सकता है, सुअर पर इसका परीक्षण सफल

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2019, 03:28 PM IST

हेल्थ डेस्क. एमआईटी ने जेली जैसी एक दवा बनाई है जो पेट के अंदर फैलकर कैंसर और अल्सर जैसी बीमारियां एक महीने तक ट्रैक कर सकती है। दरअसल, इसमें लगा सेंसर पेट का तापमान लगातार ट्रैक करता रहता है। वहीं, कैल्शियम-आयन सॉल्यूशन पीने के बाद दवा सिकुड़कर पुराने आकार में आ जाती है और आसानी से शरीर से बाहर निकल आती है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here