Dainik Bhaskar

Aug 31, 2019, 07:25 PM IST

लाइस्टाइल डेस्क. कई घरों में हर रोज नाश्ते में ब्रेड खाई जाती है। ये ब्रेड मैदे और गेंहू या कई अन्य तरह के अनाज से भी बनीं हो सकती है। भारतीय रोटी को भी विदेशी ब्रेड का एक रूप ही मानते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि ज्यादातर देशों में ब्रेड खाई जाती है जोकि अलग-अलग प्रकार से बनाई जाती है। अमी कैप्रिहन से जानिए दुनिया कितने प्रकार की ब्रेड खाई जाती है। 

6 तरह की ब्रेड


  1. अरेपा

    अरेपा

    चपटी, गोल, कॉर्नमील पैटी को वेनेजुएला और कोलंबिया में खाया जाता है। इसे बेक, फ्राय या चारकोल ग्रिल किया जाता है। अंदर ग्रेटेड चीज, ब्लैक बीन्स, एवोकाडो फिलिंग होती है। अरेपा बनाने के लिए खास प्री-कुक्ड कॉर्नफ्लोर, पानी और नमक की जरूरत है। ग्लूटन फ्री होती है।

     


  2. बेगल

    बेगल

    पारंपरिक बेगल को पहले पानी में उबाला जाता है फिर बेक किया जाता है। मूलत: ये पोलैंड की है जो अब दुनिया के कई देशों में मशहूर है। लंदन की ब्रिक लेन पर चौबीस घंटे उपलब्ध रहती है। अब फ्लेवर्डबेगल भी बन रहा है जिसमें सिनेमन-रेजिन और चॉकलेट चिप डाले जाते हैं।

     


  3. डैंपर

    डैंपर

    पारंपरिक ऑस्ट्रेलियन बुश ब्रेड है जिसे कभी कैंपफायर के सुलगते कोयले पर सेका जाता था। अब इसे साधारण ओवन में बेक किया जाता है। इंग्रीडिएंट्स में आटा, पानी, नमक और थोड़ा दूध भी मिलाया जाता है। इसे गीली या सूखी करी के साथ खाया जाता है।

     


  4. फोकाचा

    फोकाचा

    फ्लैट ओवन बेक्ड इटेलियन ब्रेड है जिसमें आटा, तेल, पानी, नमक और ईस्ट डाली जाती है। इसे साइड मील की तरह खाया जाता है। पिज्जा और सैंडविच का बेस भी बन जाती है। इसमें अन्य नमकीन इंग्रीडिएंट्स डाले जा सकते हैं जैसे-ऑलिव। ऑइली होने की वजह से कैलरी ज्यादा होती है।


  5. ग्रिसिनी

    ग्रिसिनी

    क्रिस्प और ड्राय ब्रेड के पेंसिल-साइज़ स्टिक्स होते हैं। मूलत: ये इटली की ब्रेड है। फ्लेवर देने के लिए इसमें कई तरह के हर्ब्स, सीड और स्पाइसेस भी डाले जाते हैं। इसे अक्सर सूप के साथ सर्व किया जाता है। गार्लिक ब्रेड या ब्रेड बटर से कहीं ज्यादा पौष्टिक होती है।

     


  6. इंजेरा

    इंजेरा

    खमीर से बनी चपटी ब्रेड है जिसका टेक्सचर बहुत स्पॉन्जी होता है। इसे ‘टेफ’ से बनाया जाता है, जो छोटा गोल अनाज का दाना होता है और इथिओपिया में पाया जाता है। इथिओपियन खाना इंजेरा पर ही परोसा जाता है। इसके ऊपर रसे वाली सब्जियां रखी जाती हैं, फिर खाया जाता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here