Tuesday, September 29, 2020
Home Viral Madhya pradesh Bizarre ritual bride father gift 21 snakes in Dowry |...

Madhya pradesh Bizarre ritual bride father gift 21 snakes in Dowry | यहां दहेज में दिए जाते हैं 1, 2 नहीं बल्कि 21 जहरीले सांप, वरना होता है ये अपशगुन! | indore – News in Hindi


बेटी को दहेज में सांप देने की परंपरा सदियों से चली आ रही है.

Bride father gift 21 snakes in Dowry: एक पल के लिए जरा दिमाग पर जोर दीजिए और सोचिए की कोई पिता अपनी बेटी को शादी (Daughter Marriage) में गहने, गिफ्ट्स का न देकर जहरीले सांप (Snakes) दे तो? है न हैरानी की बात.

नई दिल्ली/इंदौर. भारत में बेटियों की शादी में लेनदेन की परंपरा सदियों से चली आ रही है. बेटी की शादी में पिता खुशी से पैसे, गाड़ी, साड़ियां, गहने और कई तरह के उपहार देता है. पर एक पल के लिए जरा दिमाग पर जोर दीजिए और सोचिए की कोई पिता अपनी बेटी को शादी (Daughter Marriage) में गहने, गिफ्ट्स का न देकर जहरीले सांप (Snakes) दे तो? है न हैरानी की बात. बात बेशक हैरानी की हो, लेकिन हमारे भारत में ऐसा भी होता है. बेटियों को शादी में तोहफे के तौर पर जहरीले सांप देने की परंपरा सदियों से चली आ रही है.ये परंपरा मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) के एक विशेष समुदाय द्वारा निभाई जा रही है. प्रदेश के गौरिया समुदाय (Bizarre ritual) के लोग अपने दमाद को दहेज में 21 जहरीले सांप देते हैं. गौरिया समुदाय के लोगों का मानना है कि अगर कोई पिता शादी में अपने दामाद को जहरीले सांप न दे तो उसकी बेटी की शादी ज्यादा दिनों तक नहीं चलती और वो टूट जाती है.क्यों निभाई जा रही है ये परंपरा? बेटी को दहेज में 21 सांप देने की परंपरा इस वजह से चल रही है, क्योंकि इस समुदाय का प्रमुख काम सांप पकड़ना है. गौरिया समुदाय  के लोग सांप के जरिए ही पैसा कमाते हैं. गौरिया समुदाय में किसी बेटी की शादी फिक्स होती है तब लड़की का पिता जहरीले सांपों को इकट्ठा करने में जुट जाता है. बेटी के पिता द्वारा दामाद को सांप इस वजह से दिए जाते हैं, ताकि वह परिवार का पेट पाल सके.ये भी पढ़ेंः- गुरुग्राम में टिड्डी दल का धावा, ट्विटर यूजर्स बोले- ‘स्वागत नहीं करोगे इनका’ सांप को माना जाता है परिवार का सदस्य
गौरिया समुदाय के लोग सांप को परिवार का सदस्य मानते हैं. इस समुदाय में यदि कोई सांप पिटारे में मर जाता है तो पूरा परिवार अपना मुंडन करवाता है. साथ ही सांप की मृत्यु पर परिवार को पूरे समुदाय के लिए भोज का आयोजन करना पड़ता है. ये सभी नियम सांप को सुरक्षित रखने के लिए बनाए गए हैं.


First published: June 27, 2020, 2:49 PM IST



Source link

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: