धर्म डेस्क, अमर उजाला, Updated Tue, 30 Jun 2020 05:22 AM IST

श्रावण का महीना भगवान शिव को बेहद प्रिय है, इसलिए इस खास माह में भगवान शिव के भक्त उनकी उपासना करते हैं। सावन सोमवार के व्रत रखें जाते हैं। यह महीना 6 जुलाई से प्रारंभ हो रहा है जो 3 अगस्त रहेगा। धार्मिक शास्त्रों के अनुसार सावन में पड़ने वाले सोमवार के दिन भोले शंकर की पूजा-अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। सावन के महीने में ही शिवभक्तों के द्वारा कांवड़ यात्रा शुरू की जाती है।तीर्थस्थालों से कांवड़िये गंगाजल भरकर पैदल यात्रा करते हैं और सैकड़ों किलोमीटर की यात्रा करने के पश्चात वे शिवमंदिरों में गंगाजल से शिवलिंग का जलाभिषेक करते हैं। इस बार सावन माह में शुभ संयोग बन रहा है। दरअलस, श्रावण माह की शुरुआत सावन से हो रही है और इस माह का अंत भी सावन सोमवार के साथ हो रहा है। आइए जानते हैं सावन सोमवार की पूजा विधि क्या है। पूजा के समय किन बातों का ध्यान देना चाहिए और सावन सोमवार की तारीखें-



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here