• यशस्विनी सिंह देसवाल ने 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक अपने नाम किया
  • उन्होंने 2004 की ओलिंपिक स्वर्ण पदक विजेता यूक्रेन की ओलेना कोस्तेविच को हराया
  • भारत 3 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य के साथ अंक तालिका में पहले स्थान पर

Dainik Bhaskar

Sep 01, 2019, 10:30 AM IST

खेल डेस्क. भारतीय महिला शूटर यशस्विनी सिंह देसवाल ने ब्राजील में शनिवार देर रात आईएसएसफ वर्ल्ड कप में 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक जीत लिया। उन्होंने फाइनल में 2004 की ओलिंपिक चैम्पियन यूक्रेन की ओलेना कोस्तेविच को हराया। यशस्विनी इस स्वर्ण के साथ ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाली देश की 9वीं शूटर बन गईं। इससे पहले अंजुम मौद्गिल, अपूर्वी चंदेला, सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा, दिव्यांश सिंह, राही सरनोबत, संजीव राजपूत और मनु भाकर ने ओलिंपिक कोटा हासिल किया था।

 

भारत इस वर्ल्ड कप में तीन स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य के साथ अंक तालिका में पहले स्थान पर है। यशस्विनी से पहले अभिषेक वर्मा और महिला शूटर इलावेनिल वालारिवान ने इस वर्ल्ड कप में स्वर्ण अपने नाम किया था।

 

यशस्विनी क्वालिफाइंग राउंड में भी पहले स्थान पर थीं

पूर्व जूनियर विश्व चैम्पियन 22 साल की यशस्विनी ने आठ महिलाओं के फाइनल में 236.7 का स्कोर किया। दुनिया की नंबर कोस्तेविच को रजत और सर्बिया की जैसमिना मिलावोनोविच को कांस्य पदक मिला। वर्ल्ड नंबर-1 कोस्तेविच 234.8 अंक ही हासिल कर पाई। मिलावोनोविच ने 215.7 अंक के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। अर्थशास्त्र की छात्रा 22 साल की यशस्विनी क्वालिफाइंग राउंड में भी पहले स्थान पर थीं। तब उन्हें 582 अंक मिले थे।

यशस्विनी शूटिंग वर्ल्ड कप में स्वर्ण जीतने वाले चौथी भारतीय महिला

यशस्विनी शूटिंग वर्ल्ड कप में स्वर्ण जीतने वाली चौथी भारतीय महिला बनीं। उनसे पहले इलावेनिल (इसी वर्ल्ड कप में), अपूर्वी चंदेला और अंजलि भागवत ने यह उपलब्धि हासिल की थी। अपूर्वी ने इसी साल नई दिल्ली और म्यूनिख (जर्मनी) में स्वर्ण जीती थीं। अंजलि ने 2003 में मिलान (इटली ) और अटलांटा (अमेरिका) में चैम्पियन बनी थीं।

DBApp



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here